alessays

Let's explore our knowledge!

Information about Rajiv Gandhi राजीव गांधी के बारे में जानकारी

information about rajiv Gandhi

राजीव गांधी का पूरा नाम राजीव फिरोज गांधी था। इनका जन्म 20 अगस्त 1944 को मुंबई में हुआ था। इनके पिता का नाम फिरोज गांधी जबकि माता का नाम इंदिरा गांधी था। इनकी माता इंदिरा गांधी भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री रह चुकी हैं। इसके अलावा इनके नाना पं. जवाहर लाल नेहरू स्वतंत्र भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे। इस प्रकार इनका जन्म भारत की राजनीति में बड़ी धाक रखने वाले परिवार में हुआ था।

राजीव गांधी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा देहरादून तथा हिमालय के दून स्कूल से प्राप्त की। राजीव गांधी बचपन से ही एक पायलट बनना चाहते थे। राजीव गांधी सबसे पहले कैम्बिज यूनिवर्सिट गए लेकिन बाद में राजीव गांधी ने इंग्लैंज में स्थित लंदन के इम्प्रेरिअल कॉलेज से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की और अपना पायलट बनने का सपना भी साकार किया।

राजीव गांधी का विवाह सोनिया गांधी से हुआ था। सोनिया का असली नाम एन्‍टोनिया मैनो था। राजीव गांधी की सोनिया गांधी से पहली बार मुलाकात कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के रेस्टोरेंट में हुई थी। उस समय सोनिया कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर रही थी। इसके अलावा सोनिया खर्चों को पूरा करने के लिए रेस्टोरेंट में काम भी करती थीं। कुछ मुलाकातों के दौर के बाद ही राजीव और सोनिया ने एकदूसरे से विवाह करने का फैसला कर लिया। विवाह के लिए कुछ अड़चनें जरूर आईं लेकिन 25 फरवरी 1968 को दोनों एक दूसरे के साथ विवाह के बंधन में बंध गए। सोनिया को शुरूआत में कुछ समय भारत के प्रसिद्ध अभिनेता अमिताभ बच्चन के घर पर रहकर ही गुजारना पड़ा क्योंकि राजीव की मां इंदिरा उस समय भारत की प्रधानमंत्री थीं और ऐसे में उन्हें अपने घर में रखना मानों विरोधी दलों को उनके खिलाफ एक मौका देना था।

राजीव गांधी को संगीत और फोटोग्राफी का बहुत शौक था। अपने राजनीतिक राजघराने के विपरीत उन्हें राजनीति में किसी भी प्रकार की रूची नहीं थी। उनके भाई संजीव गांधी की 1980 में एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई। जिसके बाद इंदिरा ने इन पर राजनीति में शामिल होने के लिए काफी दबाव डाला लेकिन इन्होंने शुरूआत में इसका काफी विरोध किया। अंत में इन्होंने मां के बार बार कहने पर उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित अमेठी के संसद क्षेत्र से चुनाव जीता और राजनीति में पदार्पण किया।

राजीव गांधी 40 वर्ष के थे जब 31 अक्टूबर 1984 को उनकी मां इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई। इंदिरा गांधी जी की हत्या के बाद चारों तरफ दंगे फसाद होने लगे। काफी सारे लोगों ने इन दंगों में अपनी जानें गंवाईं। यह सब देखकर राजीव गांधी बहुत दुखी थे। दो महीने के भीतर ही राजीव ने दोबारा चुनाव करा दिए। भारी बहुमत के साथ उन्हें इन चुनावों में विजय मिली और राजीव गांधी को प्रधानमंत्री बनाया गया। राजीव गांधी 40 वर्ष में प्रधानमंत्री बनने वाले सबसे उम्र के प्रधानमंत्री बन गए। राजीव गांधी उस वक्त अपनी मां के निधन से काफी तनाव ग्रस्त थे लेकिन देश की तनावपूर्ण राजनैतिक स्थिति को देखते हुए उन्होने खुद को संभाला और देश का नेतृत्व बड़े ही संयमपूर्ण तरीके से नेतृत्व किया।

अपने राजनैतिक जीवन में राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए भरत में व्याप्त कई सामाजिक बुराईयों जैसे- ऊंच नीच, भ्रष्टाचार, घूसखोरी, देशद्रोह, निर्धनता, बेरोजगारी, दहेज प्रथा, महिलाओं पर अत्याचार के विरूद्ध मोर्चा खोल दिया। इसके अलावा भारत में पंचायती राज प्रणाली स्थापित करने में अहम भूमिका निभाई, देश में मौजूद बेरोजगारी को दूर करने के लिए बेरोजगारी लोगों को बैंको से ऋण उपलब्ध कराया ताकि वे अपना व्यापार आदि शुरू कर सकें।

इन सबके अलावा राजीव गांधी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा फिलस्तीन में उभरे संघर्ष को कम करने में, दक्षिण अफ्रीका में घृणित रंगभेद नीति के खिलाफ आंदोलन को बढ़ावा देने में, नामीबिया देश को स्वतंत्र घोषित करने में तथा गरीब अफ्रीकी देशों के लिए फंड की स्थापना करने में विशेष योगदान रहा। इन सब कदमों के बाद भारत को पूरे विश्व में सम्मान मिला और भारत की नीतियों को सराहा गया।

राजीव गांधी के प्रधानमंत्रित्व काल में भारतीय सेना द्वारा बोफ़ोर्स तोप की खरीददारी में घोटाले का मामला सामने आया जिसके बाद अगले लोकसभा चुनावों में राजीव गांधी की बुरी तरह से हार हो गई और राजीव गांधी को प्रधानमंत्री पद छोड़ना पड़ गया।

श्री लंका में गृहयुद्ध रोकने के लिए लिट्टे समुदाय के विरोध में राजीव गांधी ने भारतीय सेना भेजी थी। इस बात का बदला लेने के लिए लिट्टे समुदाय द्वारा पूर्व सुनियोजित षडयंत्र में राजीव गांधी जी की हत्या 21 मई, 1991 को दक्षिण भारत में स्थित श्री पेरुंबुदुर नामक स्थान पर कर दी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *